Jhunjhunu Update
Jhunjhunu Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना में 10 करोड़ तक के ऋण मिलेंगे

- Advertisement -

झुंझुनूं, 8 जून।
उद्यमों की सरल स्थापना एवं राज्य के सभी वर्गों के व्यक्तियों को रोजगार के नए अवसर देने के लिए बैंकों के माध्यम से ब्याज अनुदान युक्त मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना शुरू की गई है। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक नानूराम गहलोनिया ने बताया कि योजना में नवस्थापित एवं पूर्व में स्थापित उद्यम विनिर्माण, सेवा एवं व्यापार क्षेत्र के विस्तार, विविधीकरण, आधुनिकीकरण करने के लिये योजना में राष्ट्रीयकृत वाणिज्यिक बैंक, भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा प्राधिकृत निजी क्षेत्रों के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक तथा स्मॉल फाइनेंस बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, राजस्थान वित्त निगम, सिडबी द्वारा वित्त पोषित उद्यमों के लिए 10 करोड़ रुपए तक के ऋण पर 5 से 8 प्रतिशत तक ऋण की श्रेणी के अनुसार ब्याज अनुदान दिया जाएगा। गहलोनिया ने बताया कि इस योजना में वाणिज्यिक उत्पादों के थोक व खुदरा विक्रता के लिए ऋण की सीमा अधिकतम एक करोड़ रुपए रहेगी एवं उद्योग एवं सेवा क्षेत्र के लिए 10 करोड़ रुपए तक हो सकेगी। इसके तहत 25 लाख रुपए तक के ऋण पर आठ प्रतिशत, 25 लाख से पांच करोड़ रुपए तक छह प्रतिशत एवं पांच से 10 करोड़ रुपए तक के ऋण पर पांच प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस योजना में स्वयं सहायता समूह, सोसायटी, भागीदार फर्म एवं कंपनियां भी पात्र रहेगी साथ ही व्यक्तिगत आवेदक के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष या इससे अधिक होनी जरूरी है। उन्होंने बताया कि इस योजना में आवेदक जिनके परिवार में कोई भी सदस्य किसी अन्य केंद्रीय, राजकीय रोजगार मूलक अनुदान कार्यक्रम या योजना में विगत पांच सालों में लाभान्वित हुआ हो। जिनकी परिवार में कोई भी सदस्य किसी वित्तीय संस्थान बैंक का डिफाल्टर या दोषी हो वह पात्र नहीं होंगे। साथ ही मांस, मदिरा व मादक पदार्थों से बने उत्पादों का निर्माण व विक्रय, विस्फोटक पदार्थ, परिवहन वाहन जिसकी कीमत ऑन रोड़ कीमत 10 लाख रुपए से अधिक हो पुनः चक्रित न किए जा सकने वाली पॉलीथीन व पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले प्लास्टिक उत्पाद, भारत एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर प्रतिबन्धित उत्पाद गतिविधियां अपात्र होंगी। इस योजना में ऑनलाइन आवेदन पत्र एसएसओ पोर्टल के माध्यम से किया जा सकता है, अधिक जानकारी के लिए जिला उद्योग केन्द्र कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता है ।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.