Jhunjhunu Update
Jhunjhunu Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

झुंझुनूं की इंदिरा रसोई बनेगी प्रदेश के लिए मिसाल

- Advertisement -

झुंझुनूं, 19 अगस्त।
झुंझुनूं जिला पूरे प्रदेश में नवाचारों के लिए जाना व पहचाना जाता है। योजना हो या फिर कोई कार्यक्रम, उसे बेहतर ढंग के साथ—साथ और अच्छे तरीके से करने के लिए प्रयास किया जाता है। गुरूवार से पूरे प्रदेश में शुरू हो रही इंदिरा रसोई योजना में भी झुंझुनूं जिले ने नवाचार करते हुए इन रसोई के साथ गांधी विचार वाचनालय जोड़ दिया है। यानि कि अब आठ रुपए में खाने के साथ—साथ इंदिरा रसोई में आने वाले लोक ना केवल समाचार पत्र बल्कि महापुरुषों और महान लेखकों की किताबें भी पढ़ सकेंगे। झुंझुनूं जिला कलेक्टर ने गुरूवार से पूरे प्रदेश में शुरू होने वाली इंदिरा रसोई को लेकर नवाचार किया है। उन्होंने जिले में संचालित होने वाली 14 इंदिरा रसोई के लिए एक—एक नोडल अधिकारियों को लगाया गया है। उन्होंने अपने आदेशों में संबंधित एसडीएम, तहसीलदार के अलावा कुछ जिला अधिकारियों को भी इंदिरा रसोई का नोडल अधिकारी लगाया है। ताकि वे इसके संचालन के साथ—साथ खाने की गुणवत्ता को भी जांच कर सके। उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को आदेशित किया है कि वे समय—समय पर औचक निरीक्षण करें और खुद जाकर यहां परोसे जाने वाले खाने की गुणवत्ता को जांच करें। ताकि रसोई की वास्तविक स्थिति का पता चल सके।
जिला कलेक्टर यूडी खान ने इसके अलावा सभी इंदिरा रसोई में गांधी विचार वाचनालय खोले जाने के भी आदेश दिए है। कलेक्टर यूडी खान ने बताया कि खाने के लिए आने वाले लोग खाली समय में रसोई में ही ना केवल समाचार पत्रों को पढ सकेंगे। बल्कि मुंशी प्रेमचंद, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू सरीखे महापुरुषों से जुड़ी किताबें भी पढ़ सकेंगे। इसके लिए उन्होंने लोगों से भी आह्वान किया है कि वे खुद आगे आकर अपने पास रखी किताबें इस वाचनालय में दान कर सकते है। ताकि उन किताबों को और लोग भी पढ़कर प्रेरणा ले सके। उन्होंने बताया कि इस वाचनालय का संचालन भी संबंधित रसोई संचालन एनजीओ द्वारा ही किया जाएगा।
आपको बता दें कि झुंझुनूं जिला मुख्यालय पर तीन जगहों बस स्टैंड, बीडीके अस्पताल तथा नगर परिषद रैन बसेरा में यह इंदिरा रसोई खुल रही है। वहीं इसके अलावा सभी नगरपालिका मुख्यालयों पर एक—एक रसोई संचालित की जाएगी। जिसके लिए सभी जगहों पर एनजीओ को इसका काम दिया गया है। वहीं केवल चिड़ावा में इस रसोई का संचालन खुद नगरपालिका करेगी। यही नहीं इन रसोई को प्रदेश में आदर्श के रूप में प्रस्तुत करने के लिए भी लगातार प्लान तैयार किए जा रहे है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.