Jhunjhunu Update
Jhunjhunu Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

गार्गी पुरस्कार से वंचित बालिकाओं के प्रार्थना पत्र आमंत्रित

- Advertisement -

झुंझुनूं, 21 जुलाई।
बोर्ड परीक्षा 2019 में जो बालिकाएं कक्षा 10 व कक्षा 12 के परीक्षा परिणाम के आधार पर गार्गी पुरस्कार के लिए पात्र पाई गई थी। उनको गार्गी पुरस्कार की राशि चेक (कक्षा दस 2018 में उतीर्ण की दूसरी किश्त) या बैंक खातों (कक्षा दस व बारह में 2019 में उतीर्ण) के माध्यम से प्रदान की गई है। लेकिन फिर भी बहुत सी बालिकाएं ऐसी हैं। जिनको अभी तक पुरस्कार राशि प्राप्त नहीं हुई है। इसके अनेक कारणों में से एक मुख्य कारण बालिकाओं द्वारा उपलब्ध करवाई गई। अपनी बैंक खाता डिटेल गलत पाई गई है या ऐसे खाते बंद होने के कारण राशि उनके खातों में जमा नहीं हो पाई है। कुछ बालिकाएं ऐसी हैं जिनको प्रमाण पत्र तो मिल चुके हैं। लेकिन राशि प्राप्त नहीं हुई है। उनमें से कई ऐसी भी हो सकती हैं। जिन्होंने गार्गी पुरस्कार के लिए आवेदन ही नहीं किया है। ऐसे सभी प्रकरणों में पात्र बालिकाओं को पुरस्कार राशि दिलाने के लिए विशेष प्रयास के तहत सभी सीबीईओ कार्यालयों को निर्देश दिए गए हैं कि ऐसी सभी पात्र बालिकाओं के प्रार्थना पत्र, उनके बैंक खाते की पासबुक के प्रथम पृष्ठ की प्रति, कक्षा 10 या 12 की अंक तालिका की प्रति तथा कक्षा 11 में नियमित अध्ययनरत होने का प्रमाण पत्र प्राप्त कर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक कार्यालय में भिजवाए। एडीईओ कमलेश तेतरवाल ने बताया कि इसी के साथ सभी पात्र बालिकाओं के विद्यालयों के संस्था प्रधानों एवं अभिभावकों से भी आग्रह है कि अगर पुरस्कार राशि अभी तक प्राप्त नहीं हुई है तो संबंधित सीबीईओ कार्यालय में संपर्क कर अपना प्रार्थना पत्र, बैंक खाता विवरण, कक्षा 10 या 12 की अंक तालिका तथा कक्षा 11 में नियमित अध्ययनरत होने का प्रमाण पत्र 25 जुलाई से पहले सीबीईओ कार्यालय में जमा करवाएं ताकि भुगतान की कार्यवाही के लिए प्रकरण बालिका शिक्षा फाउंडेशन जयपुर को प्रेषित किए जा सके। इसके बाद भी यदि पात्र बालिकाएं पुरस्कार राशि से वंचित रहती हैं तो संबंधित संस्था प्रधान, अभिभावक व बालिकाएं स्वयं जिम्मेदार होंगे।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.