Jhunjhunu Update
Raho Update Jhunjhunu Se

सोशल मीडिया पर भडक़ाऊ कमेंट करने पर बबाई में फैला रोष

चौकी का घेराव, कुछ देर बाजार भी रहे बंद

खेतड़ी, 14 जुलाई। प्रतिदिन मिलने वाले फ्री डेटा की वजह से आजकल का युवा सोशल मीडिया पर अत्यधिक एक्टिव दिखाई देता है। इसके कारण सोशल मीडिया पर युवा आपस में गलत कमेंट करने से भी नहीं कतराते हैं और कभी-कभी यह कमेंट करना समाज में झगड़े का कारण भी बन जाता है। ऐसा ही मामला खेतड़ी उपखंड के बबाई गांव का सामने आया है। जिसमें फेसबुक और व्हाट्सएप पर दो समुदायों के युवाओं के आपस में गलत कमेंट की वजह से बड़ी घटना के रूप में बदल गया। नौबत यहां तक आ पहुंची की रविवार का पूरा दिन पुलिस और प्रशासन का समझाइश करने में निकल गया। वहीं कुछ देर के लिए बबाई के बाजार भी बंद रहे।सर्व समाज के सेना के प्रदेश अध्यक्ष शंकरसिंह सेफरागुवार, हिंदू सेना के तहसील अध्यक्ष घनश्यामसिंह, राजपूत युवा महासभा के अमितसिंह उसरिया के नेतृत्व में दिनभर संैकड़ों युवाओं ने बबाई चौकी के आगे धरना दिया। वहीं पांच थानों का पुलिस जाब्ता इस मामले को लेकर मौके पर तैनात रहा। पूरे मामले की अधिक बात की जाए तो दोनों पक्षों ने आपस में क्रॉस मामले दर्ज करवाए हैं। बबाई के विजेंद्रकुमार तिवारी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसका भाई आशीष व विकास मेहमानों को छोडऩे के लिए रात्रि को बबाई के बस स्टैंड पर गए थे।रास्ते में आते समय सेठ वाले बालाजी मंदिर के पास एक समुदाय विशेष के शाहरुख, साहिल, डैनी, गुड्डी, अख्तर तथा 10 से 15 लडक़ों ने मिलकर उसके दोनों भाइयों को मारा तथा कहा कि हमारे खिलाफ फेसबुक और व्हाट्सएप ग्रुप पर कमेंट किया तो यही अंजाम होगा।  साथ ही एक साल पहले पूर्व वसीम नाम के एक लडक़े ने मेरे फेसबुक पर समाज के खिलाफ गलत कमेंट डाले थे। उन्होंने फेसबुक तथा व्हाट्सएप पर एक सुल्तान नाम का ग्रुप बना रखा है। इस ग्रुप के बल पर आए दिन सोशल मीडिया पर गलत कमेंट करना तथा झगड़ा करने पर उतारू रहते हैं। वहीं दूसरे पक्ष के मोइनुद्दीन ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि 12 जुलाई को मेरे फेसबुक पर व्हाट्सएप पर आशीष तिवारी ने गलत मैसेज किया।इस मैसेज के चलते जब शाहरुख व साहिल ने मनीष, आशीष तिवारी व उसके साथी लडक़ों को पूछा तो आशीष, मनीष, पवन, कमलेश कालू विकास आदि ने सांप्रदायिक माहौल बिगाडऩे के लिए भीड़ इकट्टा करके बाजार बंद करवा दिया। इस मामले को बढ़ता देख कर डीएसपी मोहम्मद अयूब, थानाधिकारी शीशराम मीणा, तहसीलदार बंशीधर योगी, खेतड़ी नगर थानाधिकारी किरण यादव, बुहाना थानाधिकारी देवेंद्रप्रतापसिंह, पचेरी कलां थाना अधिकारी भरतलाल मीणा मय जाब्ते के बबाई चौकी पहुंचे और आक्रोशित भीड़ को समझाइश कर नियंत्रित किया। इसी दौरान शंकरसिंह के नेतृत्व में सैंकड़ों युवाओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की तथा न्याय करने की मांग की। इस घटना को देखते हुए पूर्व विधायक हजारीलाल गुर्जर, सुरेंद्र फौजी, रजत शर्मा, चिंटू सुरोलिया, गौतमकुमार सहित कई लोग मौके पर पहुंचे और मामले की समझाइश की।इस घटना में पुलिस ने दोनों तरफ के छह युवाओं को हिरासत में लिया है। जिसमें से तीन नाबालिग है तथा दो की उम्र 18  वर्ष की है।

सर्व समाज के युवाओं ने प्रशासन को 72 घंटे का दिया समय

सर्व समाज की ओर से अन्ना हजारे टीम के सदस्य शंकरसिंह व घनश्यामसिंह के नेतृत्व में सैंकड़ों युवाओं ने प्रशासन को निष्पक्ष जांच करते हुए 72 घंटे का समय दिया और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की अन्यथा खेतड़ी थाने का घेराव करने की चेतावनी दी। बबाई चौकी के सामने बैठे युवाओं ने तुरंत प्रभाव से एफआईआर दर्ज करने की मांग की तो पांच सदस्य की कोर कमेटी गठित कर युवा थाने में पहुंचे और एफआईआर दर्ज करवाई। उसके बाद तहसीलदार बंशीधर योगी की समझाइश पर धरना समाप्त किया गया।

बबाई में ‘सुलतान’ नाम का खूब चर्चा

जिस व्हाट्स एप गु्रप को लेकर झगड़ा हुआ है।उस गु्रप का नाम सुलतान है।ग्रामीणों की मानें तो इस सुलतान नाम से गांव के कुछयुवा भी सुलतान नाम की टी शर्ट पहनकर ऐसी हरकतें करते है। जिससे लोगों की आंखों में चूभते है।साथ ही फिल्मी स्टाइल में टी शर्ट पहनकर बाइकें भी घूमाते हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More