Jhunjhunu Update
Raho Update Jhunjhunu Se

श्रवणकुमार बोले, मंडावा से शुरू होगा जीत का अंतर

पूर्व विधायक रीटा चौधरी की मेहनत से मिलेगी मंडावा से लीड

झुंझुनूं, 19 मई। कांग्रेस के झुंझुनूं लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशी एवं सूरजगढ़ से पूर्वविधायक श्रवणकुमार ने कहा है कि मंडावा की पूर्व विधायक रीटा चौधरी द्वारा भितरघात किए जाने की खबरें महज एक अफवाह है। ना तो उन्होंने कोई भितरघात किया है और ना ही उन्होंने किसी की शिकायत की है।उन्होंने कहा कि झुंझुनूं लोकसभा में कांग्रेस की जीत मंडावा विधानसभा क्षेत्र से ही शुरू होगी।जिसका श्रेय पूरा पूर्वविधायक रीटा चौधरी के साथ-साथ सभी कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को जाएगा।उन्होंने कहा कि रीटा चौधरी की जगह अगर कोईदूसरा नेता मंडावा विधानसभा में होता तो वह उप चुनाव के खातिर पार्टी के साथ भितरघात कर सकता था। लेकिन पूरी ईमानदारी, कर्मठता और मेहनत के साथ रीटा चौधरी ने बिना कोईउप चुनाव का लोभ पाले कांग्रेस के पक्ष में जमकर मतदान करवाया है।जिसका प्रमाण आने वाली 23 मई को सामने आ जाएगा।इसके अलावा श्रवणकुमार ने साफ किया है कि कांग्र्रेस में फूट डालने के उद्देश्य से कुछ लोग गलत अफवाहें फैला रहे है।जिसे मीडिया में भी स्थान मिल जाता है।लेकिन ऐसा कुछनहीं है।लेकिन उन्होंने बातों ही बातों में इशारा किया ये पूरा लोकसभा क्षेत्रजानता है कि कांग्रेस ‘परिवार’ के तीन नेताओं ने अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रमें वो सहयोग नहीं दिया।जो उन्हें दिया जाना चाहिए था।लेकिन उन तीन विधानसभाओं में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं और आम वोटर ने उन्हें जमकर समर्थन किया।इन तीन नेताओं को लेकर भी वे कार्यकर्ताओं से बातचीत कर ही निर्णय लेंगे।

श्रवणकुमार है पूरी तरह आश्वस्त

इधर, श्रवणकुमार अपनी जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है। उन्होंने कहा कि जब उन्होंने पहली बार चुनाव जीता था। तब सट्टा बाजार में उनके भाव 100 रुपए थे। गत उप चुनाव में भी उन्हें सट्टा मार्केट ने 30 हजार वोटों से हरा दिया था।लेकिन वे चुनाव जीतकर आए।इसी तरह इस बार भी चाहे सट्टा मार्केट उन्हें हराकर बैठा हो।लेकिन वे दावा करते हैकि वे चुनाव जीतकर दिल्ली जाएंगे और लोकसभा में झुंझुनूं की आवाज को बुलंद करेंगे। श्रवणकुमार ने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर तंज कसते हुए कहा कि मतदान खत्म होने के बाद अढ़ाई लाख वोटों से जीत बताने वाले भाजपा नेता अब 50 हजार पर अपनी जीत बता रहे है।यही कमजोरी उन्हें चुनाव हरवाएगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More