Jhunjhunu Update
Raho Update Jhunjhunu Se

बच्चों के लिए मददगार है चाइल्ड लाइन 1098  : मीणा

झुंझुनूं, 12 अप्रेल। मुख्यालय स्थित राजकीय बीडीके अस्पताल स्थित राजकीय एएनएम ट्रेनिंग सेंटर में अध्ययनरत विद्यार्थियों को  शुक्रवार को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा संचालित परियोजना 1098  के बारे में बताया गया। चाइल्ड लाइन टीम सदस्य अरविंदकुमार ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बताया कि चाइल्ड लाइन 1098  जरूरतमंद बच्चों की हेल्पलाइन सेवा है, जो पूर्णतया 24 घंटे शुरू रहती है। उन्होंने बताया कि आपको आपके पास पड़ौस या आप कहीं सफर कर रहे हो। वहां या अन्य किसी भी स्थान पर जहां भी आपको कोई बच्चा किसी भी प्रकार की परेशानी में दिखाई दे तो आप तुरंत चाइल्ड लाइन 1098  को कॉल करें ताकि बच्चें की मदद की जा सके। चाइल्ड लाइन टीम सदस्य सुमन मील व आकाश शर्मा ने भी चाइल्ड लाइन पर जानकारी देते हुए बताया कि जब भी आप अनाथ, बेघर, गुमशुदा, यौन उत्पीडऩ, बाल श्रम में लिप्त बच्चें,  भिक्षावृत्ति में लिप्त बच्चें या बाल विवाह जैसी कुरीति में धकेले जा रहे बच्चों को देखे तो आप तुरंत से चाइल्ड लाइन 1098  पर कॉल करें। उसके बाद टीम द्वारा पोक्सो ई बॉक्स के बारे में बताया गया कि जब भी किसी बच्चें के साथ कोई अनैतिक घटना घटित हो जाती है तो आप चाइल्ड लाइन के साथ-साथ ऑनलाइन पोक्सो पर शिकायत दर्ज करवा सकते है। टीम द्वारा विद्यार्थियों को बताया गया कि आप चाइल्ड लाइन पर बाल विवाह, बाल श्रम या बच्चें के साथ यौन हिंसा आदि प्रकार की सूचना दी जाती है तो उसका नाम पूर्णतया गुप्त रखा जाता है। उसकी सूचना किसी को भी नहीं दी जाती है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य रामावतार मीणा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चों को मुद्दा एक संवेदनशील मुद्दा है। जिस पर हम सबको मिलकर काम करने की आवश्यकता है। मीणा ने कहा कि आज दिन प्रतिदिन नाबालिग बच्चों के साथ अनेक प्रकार की घटनाएं घटित हो रही है। जिनके लिए हम सबको जागरूक होकर बाल अधिकारों एवं बच्चों के विषय पर कार्य करने की आवश्यकता है। मीणा ने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा संचालित चाइल्ड लाइन 1098  सेवा बच्चों के लिए मददगार है इससे काफी बच्चों को सहायता मिलती है। इस अवसर पर ट्रेनिंग सेंटर अध्यापिका सरिता सैनी, मंजू कटारिया सहित समस्त स्टाफ व विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More