Jhunjhunu Update
Raho Update Jhunjhunu Se

नाबालिग से दुष्कर्म कर वीडियो वायरल करने वाले आरोपी को 10 घंटे में पुलिस ने धर दबोचा

खेतड़ी, 28  जुलाई। नाबालिग से दुष्कर्म कर वीडियो वायरल करने वाले अपराधी को खेतड़ी पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 10 घंटे में ही अपने शिकंजे में ले लिया। डीएसपी मोहम्मद अयूब ने बताया कि जसरापुर की नाबालिग ने अपने परिजनों के साथ थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि 25 जून को विक्रम पुत्र मालाराम निवासी मेहाड़ा गुर्जरवास उसे बहला-फुसलाकर भिवाड़ी ले गया।वहां उसको एक कमरे में बंधक बना लिया तथा उसके साथ बलात्कार किया और उसका अश्लील वीडियो भी बना लिया।दो दिन के बाद रात्रि को उसे मेहाड़ा लाकर छोड़ दिया।उसके रिश्तेदारों ने घरवालों को सूचना दी और घरवाले आकर पीडि़ता को गाड़ी में घर ले गए। लोक लाज की वजह से पीडि़ता के घरवालों ने कोई रिपोर्ट नहीं दर्ज करवाई। उसके बाद कुछ दिन पहले पीडि़ता के घर पर फोन आया और पीडि़ता को मेहड़ा बुलाया।पीडि़ता ने मना किया तो आरोपी ने फोन पर कहा कि उसका वीडियो में व्हाट्सएप पर वायरल कर देगा।फिर उसी दिन उसका वीडियो भी वायरल कर दिया गया।एसपी गौरव यादव ने मामले की गंभीरता को समझते हुए त्वरित कार्रवाई के लिए एडिशनल एसपी नरेश कुमार मीणा, पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद अयूब, थाना अधिकारी खेतड़ी शीशराम मीणा, थाना अधिकारी खेतड़ी नगर किरण सिंह यादव, पंकज कुमार, मनीष कुमार, विजेंद्र, राजवीर,  भैरूसिंह के नेतृत्व में टीमें बनाकर आरोपी को पकडऩे के दिशा निर्देश दिए। अलग-अलग टीमें अलग-अलग स्थानों पर दबिश देने होते हुए रवाना हुई और एक टीम घटनास्थल पर पहुंची। जहां से साक्ष्य जुटाए गए तकनीकी साक्ष्यों आधार पर शीशियां, नवलगढ़, मेहाड़ा गुर्जरवास, मेहाड़ा जाटूवास, बसई, नालपुर तथा हरियाणा बॉर्डर पर दबिश दी गई। थाना अधिकारी शीशराम मीणा ने बताया कि जब पुलिस की गाडिय़ां जसरापुर जा रही थी तो फोन लोकेशन के आधार पर आरोपी को ट्रेस किया जा रहा था तभी आरोपी बाइक लेकर खरखड़ा मोड़ की तरफ से आ रहा था। पुलिस की गाडिय़ों को देखकर आरोपी तेज गति से भागने लगा।जिस पर पुलिस की गाडिय़ों ने उसका पीछा किया और आरोपी विक्रमसिंह पुत्र मालाराम को बस स्टैंड निजामपुर मोड़ खेतड़ी से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ के दौरान आरोपी से बंधक बनाकर दुष्कर्म करने की जगह, वीडियो क्लिप, फोटोग्राफ बनाने के काम में लिए गए उपकरण के बारे में गहनता से पूछताछ की जा रही है। आरोपी को त्वरित कार्रवाई करते हुए 10 घंटे में पकडऩे के लिए पुलिस कप्तान द्वारा पुलिस टीम को नगद पुरस्कार की भी घोषणा की गई।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More