Jhunjhunu Update
Raho Update Jhunjhunu Se

- Advertisement -

- Advertisement -

उप मुख्यमंत्री ने कहा, ‘झुंझुनूं में पीएम-सीएम आए क्या देकर गए’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘देश की पहली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी खुलेगी झुंझुनूं में’

- Advertisement -

झुंझुनूं, 11 अप्रेल। झुंझुनूं से कांग्रेस प्रत्याशी श्रवणकुमार ने गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन दाखिल करने से पूर्वउनके समर्थन में आम सभा हुई। जिसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत कई वरिष्ठकांग्रेस नेता भी मौजूद रहे। दोनों ही प्रमुख नेताओं ने झुंझुनूं को लेकर भी अपने भाषण में भाजपा पर निशाना साधा।पहले नंबर उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट का था। जिन्होंने सवाल किया कि झुंझुनूं के लोगों ने कड़ी से कड़ी मिलाई।यही नहीं यहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी आई।लेकिन देकर कुछनहीं गई।पायलट के भाषण के बाद जब मुख्यमंत्री गहलोत बोले। तो उन्होंने भी भाजपा को कटघरे में खड़ा किया। कहा, हमने सैनिक स्कूल दिया।स्पोट्र्स यूनिवर्सिटी दी।लेकिन पिछली सरकार ने इस सपने को तोड़ा।लेकिन यह फैसला लिया जा चुका है कि देश की पहली स्पोट्र्स यूनिवर्सिटी झुंझुनूं में ही खुलेगी।इसके अलावा अपने भाषण में मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार कांग्रेस को कोसती है।लेकिन उन्हें भूलना नहीं चाहिए कि 76  सालों में जो कुछ भी देश में हुआ है।वो कांग्रेस की देन है।यही नहीं पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जान चली गई।लेकिन उन्होंने देश को अखंडरखा और टुकड़े नहीं होने दिए।उन्होंने कहा कि प्रदेश का मुखिया होने के नाते मेरा फर्ज बनता है कि वह आगाह करें कि देश खतरे में है और देश का लोकतंत्र खतरे में है।इसलिए हमें मिलकर कांग्रेस के हाथ सत्ता सौंपनी है।उन्होंने नोटबंदी को घोटाला बताते हुए कहा कि यूपीए सरकार आने के बाद सरकार से मांग की जाएगी कि वे इस घोटाले की जांच करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी के फिर से प्रधानमंत्री बनने पर पता भी नहीं लगा सकते है कि चुनाव होंगे भी या नहीं। वहीं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी सभा को संबोधित किया।देश के हर व्यक्ति के दिल में राष्ट्र के प्रति सम्मान और प्यार है।किसी में दम नहीं है कि देश प्रेम को चुनौती दें।उन्होंने कहा कि राहुल गांधी सत्ता में आने के लिए या फिर कांग्रेस प्रत्याशी दिल्ली जाने के लिए चुनाव नहीं लड़ रहे है।वे देश के लोकतंत्र और गणतंत्र की जड़ को मजबूत के लिए चुनाव लड़ रहे है।उन्होंने भाजपा पर सैनिकों की शौर्यता की आड़ में नाकामी छुपाने का आरोप लगाया। पायलट ने कहा कि भाजपा वाले मेरी और गहलोत के बीच अनबन की अफवाह फैलाते है।लेकिन अपने गिरेबां में नहीं झांकते कि उन्होंने आडवाणी, अरूण शौरी, यशवंत सिन्हा, शत्रुघ्न सिन्हा और घनश्याम तिवाड़ी जैसे लोगों के साथ क्या किया।जो अपनों का नहीं, वो किसी का नहीं हो सकता।संचालन कवि हरिश हिंदुस्तानी ने किया।

चोपदार के नेतृत्व में दी गई गहलोत को सलामी

मुख्यमंत्री गहलोत का सभास्थल पर कांग्रेस सेवादल के प्रदेश संगठन सचिव एमडी चोपदार के नेतृत्व में सलामी दी गई एवं टोपी पहनाकर तथा सूत की माला पहनाकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर सुभाष स्वामी, इमरान राईन मंड्रेलिया, हारून लालपुरिया, प्रदीप शर्मा, उस्मान बली, कैलाश किशन लोहारा, राजपाल ग्रेट, हमीद खान, इस्तियाक खान, महमूद चेजारा, मुस्ताक खान, मनोज टांक आदि मौजूद थे।

31 किलो फूलों की माला पहनाई

जनसभा में मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट के अध्यक्ष इंजी. इब्राहिम खान, उपाध्यक्ष एमडी चोपदार के नेतृत्व में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट व कांग्रेस प्रत्याशी श्रवणकुमार को 31 किलो की माला पहनाकर स्वागत किया गया एवं मुख्यमंत्री गहलोत को अभिनंदन पत्र भेंट किया। इस अवसर पर फ्रंट के पदाधिकारी अली हसन बाबू भाई, एडवोकेट इरशाद फारूकी, इमरान राईन मंड्रेलिया, नईम अड्डू सिद्दिकी, हफूज इलाही, आमीर कुहाड़ू, इम्तियाज तगाला, जाहिद सिद्दिकी मौजूद थे।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सुमित्रा सिंह का नाम लेना भूले

मंच पर जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभा को संबोधन से पहले आतिथियों का परिचय करवा रहे थे। सबका परिचय करवाने के बाद  मंच पर उपस्थित  पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सुमित्रा सिंह का नाम लेना भूल गए। फिर आखिरी में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष का नाम लिया।

इन्होंने किया संबोधित

सभा को शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व प्रतिपक्ष नेता रामेश्वर डूडी, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. चंद्रभान, झुंझुनूं विधायक बृजेंद्र सिंह ओला, पिलानी विधायक जेपी चंदेलिया, नवलगढ़ विधायक डॉ. राजकुमार शर्मा, पूर्व विधायक रीटा चौधरी, फतेहपुर विधायक हाकिम खां, कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. जितेंद्रसिंह, आदि कांग्रेसी नेताओ ने श्रवण कुमार के समर्थन में सभा को संबोधित करते हुए वोट देने की अपील की।

यह भी रहे मौजूद

मंच पर मंत्री परसादीलाल मीणा, रघु शर्मा, जर्नादन गहलोत, विधायक रामनिवास गावडिय़ा, पूर्वविधायक सूरजमल, भगवानाराम सैनी उदयपुरवाटी, विजेंद्रसिंह इंद्रपुरा, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष महेंद्र झाझडिय़ा, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष सज्जन मिश्रा, पूर्वविधायक सूरजमल, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सुमित्रा सिंह, पूर्व आईजी लियाकत अली, नंदकिशोर महरिया, जिला परिषद सदस्य दिनेश सूंडा, पूर्व सभापति खालिद हुसैन, विजेंद्र लांबा, डॉ. प्रवीण कुमार, एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष हुसैन सुलतानिया सहित अन्य कांग्रेसी नेता मौजूद रहे।

- Advertisement -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More