शिक्षा रत्न अवॉर्ड से सम्मानित होकर लौटे डॉ. मोदी 

झुंझुनूं एकेडमी सीबीएसई के डीएम मोदी सभा गृह में हुआ शानदार स्वागत

शिक्षा रत्न अवॉर्ड से सम्मानित होकर लौटे डॉ. मोदी 
Loading...
Loading...

झुंझुनूं।  झुंझुनूं इंटरनेशनल विज्ड़म सिटी स्थित झुंझुनूं एकेडमी सीबीएसई स्कूल के डीएम मोदी सभागृह में गुरूवार को शिक्षा रत्न अवॉर्ड से सम्मानित होकर लौटे डॉ. मोदी का शानदार स्वागत किया गया। छात्राओं ने डॉ. मोदी को परंपरानुसार तिलक लगाया तथा स्कूल प्राचार्य डॉ. रविशंकर शर्मा, छात्रावास निदेशक कुरड़ाराम धींवा एवं हैडमिस्ट्रेस सरोजसिंह ने गुलदस्ते भेंट कर डॉ. मोदी का स्वागत-अभिनंदन किया। अपने स्वागत भाषण के दौरान प्राचार्य डॉ. शर्मा ने बताया कि हरियाणा राज्य के फतेहाबाद जिले के नहरों के शहर टोहना में देश के कोने-कोने से आए शिक्षाविदों के बीच एक शानदार समारोह में जीवेम् समूह के चेयरमैन डॉ. दिलीप मोदी को शिक्षा में उनके नवाचारों तथा निजी स्कूलों के लिए दिन-रात समर्पण भाव से कार्य करने के कारण शिक्षा रत्न अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। हरियाणा के सबसे बड़े संगठन फैडरेशन ऑफ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन द्वारा आयोजित इस गरिमापूर्ण समारोह में फैडरेशन के समस्त पदाधिकारियों द्वारा निसा के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलभूषण शर्मा की उपस्थिति में केसरिया साफा पहनाकर यह सम्मान दिया गया। गौरतलब है कि शिक्षा में नवाचारों को बढ़ावा देने के कारण तथा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए डॉ. मोदी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय अवॉर्ड प्राप्त कर देश-विदेश में सम्मानित हो चुके हैं। इस अवसर पर डॉ. मोदी ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि संपूर्ण भारत के शिक्षाविदों के बीच यह सम्मान मिलना गौरव का विषय है। 37 वर्ष की इस यात्रा में अनेक उतार-चढ़ाव एवं चुनौतियों का डट कर सामना किया है। इस तरह के अवॉर्ड मिलने से मनोबल बढ़ता है, बेहतर काम करने की जिज्ञासाएं पैदा होती हैं। अच्छे कार्य से सम्मानित होने से दूसरों को भी प्रेरणा मिलती है। भीड़ में पहचान बनाना ही श्रेष्ठ व्यक्ति की निशानी है। हमने वर्तमान शिक्षा नीति की कमियां, इनमें सुधार करना इत्यादि अनेक रिसर्च किए तथा इससे संबधित अनेक सुझाव और आपत्तियां सरकार को भेजी हैं। लोगों को भी जागरूक किया है, जिससे नई शिक्षा नीति में और सुधार होगा। हमारे इसी रिसर्च से प्रभावित होकर हमें यह राष्ट्रीय स्तर का सम्मान मिला है। उन्होंने सभी विद्यार्थियों से भी कहा कि आप भी अपने क्षेत्र में बेहतर कार्य करें और सम्मान प्राप्त करें। इसके पश्चात उन्होंने यह अवॉर्ड जीवेम गु्रप के सभी पदाधिकारियों, प्रबंधकों, अध्यापकों, विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को समर्पित किया और कहा कि आप सबके सहयोग एवं प्रयासों से यह संभव हुआ है। यह मेरा नहीं आपका ही सम्मान है। कार्यक्रम के अगले चरण में छात्रावास निदेशक धींवा ने डॉ. मोदी को बधाई देते हुए कहा कि आपके द्वारा किए गए कार्यों से सारा जीवेम् गु्रप तथा यह झुंझुनूं जिला आप पर गर्व करता है। एक साधारण व्यक्ति अपने कार्यों से ही असाधारण बनता है। शिक्षा से संबधित इस अवॉर्ड के लिए पूरे देश से आपको चुना जाना बहुत बड़े सम्मान की बात है। अंत में हैडमिस्ट्रेस श्रीमती सिंह ने कार्यक्रम का समापन करते हुए कहा कि आपकी प्रेरणा व मार्गदर्शन हमेशा से ही हमारे साथ रहा है। आने वाले समय में हम और बेहतर करके कार्य आपकी हर उम्मीद पूरी करेंगे। संचालन अग्रेंजी अध्यापिका अनिता सोनी ने किया।